देश में बढ़ रहे कोरोना के नए वैरिएंट के मामले, क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1

क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1

क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1– कोरोना का नया वैरिएंट सामने आने के बाद से दुनिया भर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. पिछले 24 घंटो में देश में कोरोना के 752 नए मामले सामने आयें हैं जोकि बीते 21 मई 2023 के बाद सर्वाधिक हैं. इस दौरान देश में कोरोना से 4 मौतें हुई हैं. कोरोना का नया वैरिएंट JN.1 लगभग 41 देशों में फैलने के बाद भारत में भी अपनी दस्तक दे चूका है. देश में JN.1 वैरिएंट के शुक्रवार तक मिले आंकड़ों के मुताबिक 26 मामले सामने आयें हैं.

क्रिसमस और न्यू ईयर पार्टी को लेकर लोगों के बीच जितनी ज्यादा एक्साइटमेंट है उतनी ही लोगों के अंदर कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर डर का माहौल भी  बना हुआ है. कई लोग इसे कोरोना की चौथी लहर का आगाज मान रहे हैं.  हालांकि हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि इसे अभी चौथी लहर कहना जल्दबाजी होगी. इससे ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है, बस हमे सावधानी बरतनी है.

क्या है दुनिया की स्थिति

दुनिया भर में कोरोना के नए मामलों में पिछले 28 दिनों की तुलना में लगभग 52% की वृद्धि देखने को मिली है जबकि पिछले 7 दिनों के आंकड़ों पर नजर डाला जाये तो कोरोना के नए मामले 75.5% बढ़ें हैं. इस दौरान सबसे ज्यादा कोरोना के मामले रूस में देखने को मिल रहे हैं, इसके बाद सर्वाधिक प्रभावित देश सिंगापुर और इटली हैं.

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के अनुसार, 8 दिसंबर तक अमेरिका में रिपोर्ट किए गए कोरोना संक्रमण के कुल मामलों में सबवेरिएंट जेएन.1 के मामले अनुमानित रूप से 15 से 29 फीसद हो सकते हैं। सीडीसी ने बताया सुरक्षित रहने के लिए अमेरिका में इस्तेमाल हो रही कोरोना वैक्सीन की एक डोज काफी है। अमेरिका में जेएन.1 का पहला मामला सितंबर में आया था। पिछले हफ्ते, चीन में इसके सात मामले सामने आए। अब यह 41 देशों में फैल चुका है।

क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1

क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1

जाने माने वायरोलॉजिस्ट डॉक्टर टी जैकब जॉन ने बताया, “ कोरोना का ये वैरिएंट बहुत घातक नहीं है लेकिन बहुत तेज़ी से फैलता है और अब तक 40 से ज़्यादा देशों में फैल चुका है. ओमिक्रॉन के बारे में हम जानते हैं और इस वजह से इसे लेकर बहुत हैरानी नहीं है. ये छींक से निकलने वाले कणों के जरिए हवा में फैलता है. ओमिक्रॉन के दूसरे सब वेरिएंट्स के मुक़ाबले नाक और गले से निकलने वाले फ्लूड में वायरल लोड ज़्यादा होता है.”

JN.1 पहली बार अगस्त में लक्जमबर्ग में पाया गया था। इसे ओमिक्रोन का सब वैरिएंट कहा जा रहा है. ओमीक्रॉन बेहद संक्रामक वैरिएंट है जिसके कारण दुनियाभर में पिछले साल बड़ी संख्या में लोग कोरोना की चपेट में आए थे। वर्तमान में इस सब-वेरिएंट से प्रभावित मरीज सिंगापुर, अमेरिका समेत दुनिया के लगभग 41 देशों में मौजूद है। तेजी से फैलने के कारण WHO ने JN.1 को मूल वंश BA.2.86 से एक अलग वेरिएंट ऑफ इंटरेस्ट (VOI) के रूप में चिह्नित किया है। BA.2.86 की तुलना में, JN.1 में स्पाइक प्रोटीन में अतिरिक्त L455S उत्परिवर्तन है।

देश में बढ़ रहे कोरोना के नए वैरिएंट के मामले

भारत में जेएन.1 वैरिएंट का पहला मामला केरल में आठ दिसंबर को रिपोर्ट किया गया था, जिसमे केरल की 79 साल की महिला को नए वैरिएंट से संक्रमित पाया गया था। अब तक ये वैरिएंट देश के 11 राज्यों में फ़ैल चूका है, जिसमे सबसे प्रभावित राज्य गोवा रहा है, जहाँ JN.1 वैरिएंट से सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज मिले हैं. गोवा में अब तक JN.1 वैरिएंट से 19 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं. गुजरात, पुडुचेरी, तेलंगाना, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में भी जेएन.1 वैरिएंट के संक्रमित पाए गए हैं।

ये भी पढ़ें- National Mathematics Day 2023-महान भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन कौन थे, राष्ट्रीय गणित दिवस क्यों मनाया जाता है?

https://anandcircle.com/wp-admin/options-general.php?page=ad-inserter.php#tab-6

1 thought on “देश में बढ़ रहे कोरोना के नए वैरिएंट के मामले, क्या है कोरोना का नया वैरिएंट JN.1”

  1. Pingback: बेंगलुरु में गहराता भाषा विवाद- क्या है 60% कन्नड़ भाषा का नियम जिसके लिए बेंगलुरु में हो रहे प्रदर्

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
इस देश में सैकड़ों सालों तक धधकते रह सकते हैं ज्वालामुखी किसने दिया था “भारत भारतीयों के लिए” का नारा पहली बार इतने लोगों को मिला भारत रत्न पुरस्कार, जानिए सभी के नाम Munawar Faruqui- कौन हैं बिग बॉस 17 के विनर मुनव्वर फारुकी Bihar Politics- इतनी बार नीतीश कुमार ने मारी पलटी, ऐसे ही नहीं कहा जाता पल्टूराम नीतीश