देश में आज मकर संक्रांति की धूम है

इस बार मकर संक्रांति 14 जनवरी को न मनाकर 15 जनवरी को मनाई जाएगी

इस दिन प्रातः गंगा नदी में स्नान करना शुभ माना जाता है

यदि गंगा स्नान संभव ना हो तो घर में ही गंगाजल मिलकर स्नान कर सकते हैं

मकर संक्रांति पर स्नान के बाद पीले वस्त्र धारण करना चाहिए

इसके बाद सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए

पूजन के लिए मकर संक्रांति पुण्यकाल- प्रातः 07:15 मिनट से सायं 06: 21 मिनट तक है

जबकि मकर संक्रांति महा पुण्यकाल –प्रातः  07:15 मिनट से प्रातः 09: 06 मिनट तक है

सूर्य चालीसा और आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करना चाहिए

फिर आरती करने के बाद दान करना अत्यंत शुभ माना गया है

पूजन के दौरान लोगों को घरों में अपने कुलदेवता को पूरे विधि विधान के साथ तिल व गुड़ चढ़ाना चाहिए।